भारत बंध: 20 करोड़ कर्मचारी हड़ताल पर केंद्र सरकार की नीतियों के विरोध में

    0
    97

    केन्द्रीय श्रमिक 2 दिन की हड़ताल शुरू हो गई है यह हड़ताल केंद्र सरकार की नीति के विरोध में की गई है जिसमें कल सरकारी बैंक पोस्ट और इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से लेकर अलग-अलग मजदूर यूनियन शामिल है.

    मजदूर यूनियन का दावा है कि इस हड़ताल में 20 करोड़ कर्मचारी शामिल है अहमदाबाद के विक्टोरिया गार्डन के पास बैंक कर्मचारियों द्वारा प्रदर्शन किया गया था सूरत में भी चौक बाजार के किले में बड़ी संख्या में केंद्र सरकार के कर्मचारी द्वारा केंद्र सरकार की नीतियों के विरोध मैं नारेबाजी की गई थी .

    कई जगह पर बंद के कारण हिंसक समाचार मिले पश्चिम बंगाल के आसनसोल में टीएमसी और सीपीएम के कार्यकर्ता को एक दूसरे का सामना करना पड़ा था.

    मुंबई में भी बेस्ट बसों की हड़ताल की वजह से ऑफिस जाने वाले लोगों को आने-जाने में परेशानी का सामना करना पड़ा कर्नाटक में भी सरकारी काम काज को असर हुआ था.

    भारतीय ट्रेड यूनियन कांग्रेस के महासचिव अमरजीत कौर ने दावा किया था कि बहुत से राज्यों मैं उद्योगों ने भी हड़ताल का समर्थन किया है और कितनी ही जगह पर ट्रांसपोर्ट विभाग टैक्सी ड्राइवर भी इस हड़ताल से जुड़े हुए हैं श्रमिक संगठन न्यूनतम वेतन के साथ सामाजिक सुरक्षा के लिए योजना लाने की मांग कर रहे हैं यह संगठन खानगीकरण का भी विरोध कर रहे हैं.

    जर्नलिज्म स्टूडेंट: हीना मन्सुरी

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here